WIKIPEDIA पर क्लियोपेट्रा के बारे में खोजो - 10 रोचक तथ्य

यदि आप भी Wikipedia पर क्लियोपेट्रा के बारे में खोज रहे है तो आप सही जगह पर है। आज के इस लेख में हम मिस्र की रानी क्लियोपेट्रा के बारे में कुछ रोचक जानकारी आपके साथ शेयर कर रहे है।


WIKIPEDIA पर क्लियोपेट्रा के बारे में खोजो


क्लियोपेट्रा मिस्र की एक बहुत ही सुंदर महारानी थी जो 700 गधी के दूध से रोजाना स्नान करती थी जिससे उसकी त्वचा सबसे खूबसूरत थी।


क्लियोपेट्रा जितनी ज्यादा सुंदर थी वो उतनी ही षडयंत्रकारी और क्रूर थी। ऐसा माना जाता है की उनके कई पुरुषो के साथ शारीरिक संबंध थे वो अपनी खूबसूरती से कई राजाओं और सेनिको को ठिकाने लगा देती थी।


इतिहासकारों के अनुसार क्लियोपेट्रा ने सर्प की सहायता से आत्महत्या की थी परंतु कई लोगों का मानना हैं कि उनकी मृत्यु मादक पदार्थ के सेवन करने से हुई थी।


क्लियोपेट्रा को विश्व की सबसे अमीर और सुंदर रानी माना जाता था। उसके पास रोम की तीन ताकते थी। जो जुलियस सीजर, मार्क एंथोनी और ऑक्टेवियन है।


ऐसा माना जाता है की जुलियस सीजर ने उन्हें मिस्र की रानी बनने में सहायता दी थी।


संसार के अनेको कलाकारों ने क्लियोपेट्रा की चित्रकारी और मूर्तियां बनाई थी। क्लियोपेट्रा साहित्य में बहुत लोकप्रिय हुई जिसके चलते साहित्यकारों ने क्लियोपेट्रा को अपनी कृतियों में नायिका का दर्जा दिया था। 


अंग्रेजी साहित्य की तीन प्रमुख रचनाओं शेक्सपियर, ड्राइडन और बर्नाड शा- ने अपने नाटकों में उनके व्यक्तित्व के कई पहलुओं का विस्तार किया। 


क्लियोपेट्रा भारत के साथ व्यापार करती थी जिसके चलते उसके संबंध भारत देश के साथ भी थे। दरअसल क्लियोपेट्रा भारत से गरम मसाले और मोतीभरे जहाज सिकंदरियो बंदरगाह पर खरीद लिया करती थी।


क्लियोपेट्रा पांच भाषाओं की ज्ञाता मानी जाती थी, इसी वजह से वो एक चतुर राजनीतिज्ञ भी थी। क्लियोपेट्रा किसी भी व्यक्ति से कुछ ही समय में उसके सारे राज जान लेती थी जिसके चलते हजारों पुरुषो के साथ उसने सेक्स भी किया था।


क्लियोपेट्रा ने अपने राज्य और शासन को बचाने के लिए बहुत कुछ दांव पर लगा दिया था। 


कहते है कि क्लियोपेट्रा जब 17 वर्ष की थी तब उसके माता और पिता की मृत्यु हो गई थी। पिता की वसीयत की वजह से उसे और उसके छोटे भाई टोलेमी को संयुक्त राज्य प्राप्त हुआ। 


मिस्री प्रथा के अनुसार क्लियोपेट्रा अपने भाई की पत्नी बनने वाली थी परंतु राज्य संघर्ष के कारण उसे सीरिया भागना पड़ा। 

क्लियोपेट्रा ने हिम्मत नही हारी और तभी जुलियस सीजर अपने दुश्मन पोपे का पीछा करता हुआ मिस्र आ गया।


वहां पर उसने क्लियोपेट्रा को देखा तो उसकी सुंदरता का दीवाना हो गया। क्लियोपेट्रा की सुंदरता के जाल।में फंसने के बाद वह उसे मिस्र की रानी बनाने के लिए युद्ध करने के लिए राजी हो गया।


जुलियस सीजर ने टोलेमी में से युद्ध किया जिसमे टोलेमी मारा गया और क्लियोपेट्रा को मिस्र का रानी बना दिया। 


मिस्र के प्राचीन इतिहासकारों के अनुसार क्लियोपेट्रा अपने छोटे भाई के साथ मिलकर शासन करने लगी परंतु कुछ समय बाद ही क्लियोपेट्रा ने अपने छोटे भाई को विष देकर मार दिया और अपनी छोटी बहन आर्सिनोई को भी मरवा दिया।


ऐसा माना जाता है कि क्लियोपेट्रा रोमन सम्राट जूलियस सीजर की रखैल थी। दोनो ने शीत ऋतु अलेकजेंडरिया में बिताई थी। 


इसके बाद एंथोनी और क्लियोपेट्रा के 3 बच्चे पैदा हुए इसके बाद उन्होंने शादी भी कर ली। 


44 ईसा पूर्व जुलियस की हत्या के बाद उसके वारिस ऑक्टेवियन का जब एंथोनी ने विरोध किया तो क्लियोपेट्रा उसका साथ दिया जिसके चलते दोनों के मध्य युद्ध हुआ और एंथोनी की हार हुई।


क्लियोपेट्रा अपने 60 जहाजों में साथ सिकंदरिया भाग आई। एंथोनी भी उसके पीछे भाग आया। इसके बाद ऑक्टेवियन के कहने क्लियोपेट्रा ने एंथोनी को धोका दे दिया। 


क्लियोपेट्रा ने एंथोनी को बहलाकर मारने के लिए तैयार किया और उसे समाधि भवन ले गई। वहां एंथोनी ने आत्महत्या कर ली।


अब क्लियोपेट्रा ऑक्टेवियन को भी अपने जाल में फंसाकर मिस्र की सता प्राप्त करने की योजना पर काम कर रही थी। 


लेकिन ऐसा नहीं हुआ ऑक्टेवियन उसके जाल में नही फंसा और एक डंक वाले जहरीले सर्प से क्लियोपेट्रा ने आत्महत्या कर ली।


लेकिन इतिहासकारों के अनुसार क्लियोपेट्रा की मृत्यु मोदक पदार्थों के अधिक सेवन करने के कारण हुई थी। 


यूनिवर्सिटी ऑफ ट्राइवर के इतिहासकार और प्रोफेसर क्रिस्टॉफ शेफर ने अपने आधुनिक शोध में दावा किया है कि अफीम और हेम्लाक (सफेद फूलों वाले विषैले पौधे) के मिश्रण के सेवन की वजह से उनकी मौत हुई थी। क्लियोपेट्रा का निधन अगस्त 30 ईसा पूर्व में हुआ था और हमेशा से यही समझा जाता रहा है कि उनकी मौत कोबरा सांप के काटने से हुई थी।

Tags

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.