Skip to content Skip to sidebar Skip to footer

Custom Widget

निपात-अवधारक (Nipat-Avdharak) - परिभाषा, भेद और उदाहरण : हिन्दी व्याकरण

निपात-अवधारक: Nipat Kise Kahate Hai


किसी भी बात पर अतिरिक्त भार देने के लिए जिन शब्दों का प्रयोग किया जाता है उसे निपात (अवधारक) कहते है। जैसे :- भी , तो , तक , केवल , ही , मात्र आदि।


निपात के उदाहरण: Nipat Ke Udaharan

  • तुम्हें आज रात रुकना ही पड़ेगा।
  • तुमने तो हद कर दी।
  • कल मै भी आपके साथ चलूँगा।
  • गांधीजी को बच्चे तक जानते है।
  • धन कमा लेने मात्र से जीवन सफल नहीं हो जाता।


निपात के भेद: Nipat Ke Bhed

यास्क ने निपात के तीन भेद माने है-

  • उपमार्थक निपात: यथा- इव, न, चित्, नुः 
  • कर्मोपसंग्रहार्थक निपात: यथा- न, आ, वा, ह;
  • पदपूरणार्थक निपात: यथा- नूनम्, खलु, हि, अथ


यद्यपि निपातों में सार्थकता नहीं होती, तथापि उन्हें सर्वथा निरर्थक भी नहीं कहा जा सकता। निपात शुद्ध अव्यय नहीं है; क्योंकि संज्ञाओं, विशेषणों, सर्वनामों आदि में जब अव्ययों का प्रयोग होता है, तब उनका अपना अर्थ होता है, पर निपातों में ऐसा नहीं होता। निपातों का प्रयोग निश्र्चित शब्द, शब्द-समुदाय या पूरे वाक्य को अन्य भावार्थ प्रदान करने के लिए होता है।


निपात के कार्य


निपात के निम्नलिखित कार्य होते हैं-

  • पश्र- जैसे : क्या वह जा रहा है ?
  • अस्वीकृति- जैसे : मेरा छोटा भाई आज वहाँ नहीं जायेगा।
  • विस्मयादिबोधक- जैसे : क्या अच्छी पुस्तक है !
  • वाक्य में किसी शब्द पर बल देना- बच्चा भी जानता है।


निपात के प्रकार: Nipat Ke Prakar


निपात के नौ प्रकार या वर्ग हैं-

  • स्वीकार्य निपात- जैसे : हाँ, जी, जी हाँ।
  • नकरार्थक निपात- जैसे : नहीं, जी नहीं।


(1) स्वीकृतिबोधक निपात - हा,जी,जीहाँ

(2) नकारबोधक निपात - जीनहीं,नहीं

(3) निषेधबोधक निपात - मत

(4) प्रश्नबोधक निपात - क्या

(5) विस्मयबोधक निपात - क्या,काश

(6) तुलनाबोधक निपात - सा

(7) अवधारणाबोधक निपात - ठीक,करीब,लगभग,तकरीबन

(8) आदरबोधक निपात - जी

(9) बल प्रदायकबोधक निपात - तो,ही,भी,तक,भर,सिर्फ,केवल


प्रिय छात्रों हमे उम्मीद है आपको यहाँ पर Nipat के प्रत्येक भाग की जानकारी मिल गयी होगी। यदि आपका कोई मित्र है तो उसके साथ इस आर्टिकल को शेयर करे ताकि वो भी यहाँ से हिंदी व्याकरण का अध्ययन कर सके। 


अन्य लेख पढ़ें !

Hindi Grammer -

➭ भाषा ➭ वर्ण ➭ शब्द ➭ पद ➭ वाक्य ➭ संज्ञा ➭ सर्वनाम ➭ विशेषण ➭ क्रिया ➭ क्रिया विशेषण ➭ समुच्चय बोधक ➭ विस्मयादि बोधक ➭ वचन ➭ लिंग ➭ कारक ➭ पुरुष ➭ उपसर्ग ➭ प्रत्यय ➭ संधि ➭ छन्द ➭ समास ➭ अलंकार ➭ रस ➭ विलोम शब्द ➭ पर्यायवाची शब्द ➭ अनेक शब्दों के लिए एक शब्द

एक टिप्पणी भेजें for "निपात-अवधारक (Nipat-Avdharak) - परिभाषा, भेद और उदाहरण : हिन्दी व्याकरण"